Indian Proud Uncategorized

तीन बार स्वतंत्र उमेदवार चुनके आने वाले विधायक बच्चू कडु के बारे मैं यह चीज़े पता है क्या.?

तीन बार स्वतंत्र उमेदवार चुनके आने वाले  विधायक बच्चू कडु के बारे मैं यह चीज़े पता है क्या.?

विधायक बच्चू कडु

विधायक बच्चू कडु: चलिए आज उनके जीवन की कुछ बातें जानते है..!!

  1. बच्चू कडु इनका जन्म 5 जुलाई, १९७० बेलोरा गांव,ता.चांदूर बाजार ज़िला-अमरावती के किसान परिवार में हुआ था।

  2. वे जब ९वी कक्षा मैं थे तब उन्होंने गांव मैं होने वाला तमाशा बंद कर दिया और गांव की पीढ़ी को बर्बाद होने से बचा लिया।

  3. दोस्त को रक्तदान करते वक्त उनका वजन कम था इसलिए उन्होंने जेब में पत्थर रखके रक्तदान किया और दोस्त की जान  बचाई

  4. रक्तदान का शतक पूरा करने वाले बच्चू कडु एकमात्र विधायक है|

  5. उनके प्रहार संस्थानद्वारा आजतक लाखोंके ऊपर रक्त बैग दान किये गए है

  6. वह बालासाहेब के भाषणों से प्रभावित थे, जो शिवसेना के चांदुर बाजार समिति के सभापती थे।|विधायक बच्चू कडु

  7. जब वह सभापती थे, तो उन्होंने संडास घोटाले का पर्दाफाश किया, क्योंकि उन्होंने अपंग लोगो को फंड न देने के कारन, उन्होंने शिवसेना के नेता के साथ विवाद होने की वजह से शिवसेना को छोड़ दिया।

  8. १९९९ में, उन्होंने चुनाव में पहली बार एक स्वतंत्र उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़ा, केवल 1300 वोटों वो हारे।

  9. बच्चू कडू इनके पहले चुनाव प्रचार के लिए पैसा नहीं होने की वजह से उनके कई दोस्तोंने घर के गहने तोड़ दिए और अपनी पत्नी के मंगलसुसत्ता को भी गिरवी रख दिया|आज भी, बच्चू कडू गर्व से उन दोस्तों का उल्लेख करते है

  10. लोगों को न्याय दिलाने के लिए वो खुद की पर्वा नहीं करते थे, ऐसे करने वाले वह पहले विधायक होंगे|

  11. बच्चू कडू ने महात्मा गांधी जयंती के दिन राष्ट्रीय गान के ताल पर अपनी शादी की और शादी का खर्चों बचाके उन्होंने विकलांग बच्चों को साहित्य वितरण किया।विधायक बच्चू कडु

  12. यह देखते हुए कि सरकारी अधिकारी काम नहीं कर रहे थे, उन्होंने विरोध प्रदर्शन किया, जिसमे उन्होंने अधिकारि के केबिन में सांप छोडे, कार्यालय में सुतळी बम फोड़े , उनका यह ‘विरूगिरी’ आंदोलन बहुत फेमस हुआ था।

  13. 2004 में, उन्होंने एक स्वतंत्र उमेदवार के रूप में वापस आमदारकी (विधायक ) का चुनाव लड़े और चुनके आए, आज वह लगातार तीन बार स्वतंत्र आमदार हैं।विधायक बच्चू कडु

  14. बच्चू कडू ने आज तक 18 लाख मरीजों को मुफ्त उपचार कराया है।

  15. तीन बार विधायक बच्चू कडू का आज भी खुदका घर नहीं है, वह आज भी किराए के घर में रहते है। उनकी पत्नी एक शिक्षक है|

  16. बच्चू कडू महाराष्ट्र के एकमात्र विधायक है, जिन्होंने विधायकों की वेतन वृद्धि का विरोध किया।विधायक बच्चू कडु

  17. बच्चू कडू एक सर्पमिञ हैं, वे खेल से प्यार करते हैं, घुड़सवारी उन्हें सबसे ज्यादा पसंद है |विधायक बच्चू कडु

  18. सामान्य लोगों के जैसे जनता मैं रहने उनकी शैली प्रभावी है|

  19. इस वर्ष उन्हें लोकमतने ‘महाराष्ट्रीयन ऑफ द ईयर’ पुरस्कार से सम्मानित किया है। यह पुरस्कार मिलने वाले बच्च्चू कडू पहले स्वतंत्र आमदार है।

  20. दिल्ली में 25,000 लोगों का मोर्चा अपंग लोगो के लिए करनेवाले बच्चू कडू पहले स्वतंत्र विधायक है और उनके उत्तराधिकारी मैं एक दिन में 11 सरकारी निर्णयों को पारित किया।

  21. बच्चू कडू के आंदोलन विशेष होते हैं और जब तक निर्णय नहीं आता तब तक वे आंदोलन जारी रखते हैं। उनका उपोषण 21 दिनों तक चल रहा था |

ऐसा विधायक प्राप्त हुआ यह महाराष्ट्रा का नसीब है, अगर ऐसे दस बारा विधायक को महाराष्ट्र मिले, तो महाराष्ट्रा  का चेहरा ही बदल जाएगा …!!

See also: क्या आपको पता है की स्वामी विवेकानंदजी कैसे खुदको सकारात्मक रखते थे.?

Advertise